Homeलाहुल स्पीतिबड़ी लापरवाही : हिमाचल की वैक्सीन लगाकर चले गए हरियाणवी

बड़ी लापरवाही : हिमाचल की वैक्सीन लगाकर चले गए हरियाणवी

- Advertisement -

सिरमौर जिले के उपमंडल मुख्यालय संगड़ाह में सोमवार को 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों की वैक्सीनेशन के दौरान बड़ी गड़बड़ी व लापरवाही सामने आई है। यहां ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा चुके दर्जनों स्थानीय लोगों को जहां निर्धारित 100 डोज में से बुकिंग अथवा नंबर नहीं मिला, वहीं नाहन व पांवटा मैडीकल ब्लॉक के 50 के करीब लोगों को वैक्सीन लगाई गई। सबसे बड़ी गड़बड़ी व लापरवाही तो यह रही कि हिमाचल सरकार द्वारा जनता के लिए उपलब्ध करवाई गई नि:शुल्क वैक्सीन हरियाणा अथवा बाहरी राज्य के लोगों को लगाई गई।

सिरमौर जिले में बाहरी राज्य के लोगों को हिमाचल सरकार द्वारा नि:शुल्क वैक्सीन लगाए जाने का यह पहला मामला बताया जा रहा है। बाहरी राज्यों के कुछ लोगों ने पांवटा साहिब व कालाअंब का पता बताकर भी वैक्सीनेशन करवाई तथा अस्पताल के आसपास सोमवार को हरियाणा व उत्तराखंड के नंबर वाले कई वाहन देखे गए। स्थानीय लोगों ने बाहरी राज्य के लोगों को कोविशील्ड के टीके लगाने तथा वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवा चुके दर्जनों स्थानीय लोगों का सैशन बुक न होने को सरकार व विभाग की लापरवाही तथा धांधली करार दिया।

बीएमओ संगड़ाह डॉ. कृष्णा भटनागर ने बताया कि संगड़ाह में बाहरी राज्य के केवल 3 लोगों को वैक्सीन लगी है। शेष लोगों ने अपना राज्य अथवा पता हिमाचल का लिखवाया है। डॉ. भटनागर ने कहा कि यहां बाहरी क्षेत्र अथवा राज्यों के उन्हीं लोगों को वैक्सीन लगाई गई, जिनका कोविड एप पर रजिस्ट्रेशन तथा सैशन बुक हुआ था। उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों के लोगों को वैक्सीन न लगाने संबंधी कोई आदेश अब तक जारी नहीं हुए हैं।

उधर, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. केके पराशर ने कहा कि बाहरी राज्य के लोगों को वैक्सीन नहीं लगनी चाहिए थी। इस बारे में वह बीएमओ से बात करेंगे। एसडीएम संगड़ाह डॉ. विक्रम नेगी ने बताया कि बाहरी राज्यों के लोगों को वैक्सीन लगाने से पहले विभाग द्वारा उन्हें इस बारे जानकारी नहीं दी गई। अगले सैशन से बाहरी राज्य के लोगों की वैक्सीनेशन को रोकने का हल निकाला जाएगा।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular