HomeHimachal Newsजयराम सरकार पलटू राम सरकार : विक्रमादित्य सिंह

जयराम सरकार पलटू राम सरकार : विक्रमादित्य सिंह

Shimla Rural MLA and Congress youth leader Vikramaditya Singh has said that Jai Ram Sarkar is Paltu Ram government. He said that in the evening the government takes a decision and Suhe changes his decision. He said that the employees were first given DA's lollipop and later this lollipop was pulled back from their hands and today they are calling us anti-employees. He said that we do not have to take the certificate of being employee friendly from the BJP.

- Advertisement -

Shimla ग्रामीण के विधायक एवं कांग्रेस के युवा नेता Vikramaditya Singh ने कहा है कि Jai Ram Sarkar पलटू राम सरकार है। उन्होंने कहा कि शाम को सरकार फैसला लेती है और सुवह अपने फैसले को बदलते हैं। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को पहले डीए का लॉलीपॉप थमाया और बाद में यह लॉलीपॉप उनके हाथ से बापस खींच लिया और आज हमें कर्मचारी विरोधी कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें कर्मचारी हितैषी होने का प्रमाण पत्र भाजपा से नहीं लेना है।

कर्मचारी जानते हैं कि Virbhadra Sarkar कर्मचारी हितैषी रही है और सभी लाभ Virbhadra Singh ने दिए है। वे यहां सेऊबाग में रोहित वत्स धामी के घर में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। धर्मवीर धामी के निधन के बाद यह यहां पहला राजनीतिक कार्यक्रम था। उन्होंने यहां से Devbhoomi Kullu-Manali का प्रचार अभियान शुरू किया। उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर को अंहकार हो गया है और कह रहे हैं कि मंडी हमारी है। उन्होंने कहा कि मंडी न तो जय राम की है, न ही प्रतिभा सिंह की। न ही वीरभद्र की रही और न ही सुखराम की।

मंडी तो Mandi लोकसभा क्षेत्र के लोगों की है। Mandi, Kullu, Lahaul Spiti के लोगों की है। उन्होंने कहा कि अब जय राम के मुंह में यह बात शोभा नहीं देती है कि कांग्रेस वीरभद्र सिंह के नाम पर वोट ले रही है। यदि वोह मोदी के नाम पर वोट लेते हैं तो हम वीरभद्र सिंह के नाम पर क्यों नहीं। जबकि वीरभद्र सिंह लोगों के दिलों में बसते थे। जबकि पूरे प्रदेश का विकास किया है। उन्होंने कहा कि आज भाजपा को मंहगाई पर ध्यान देना चाहिए। रसोई गैस हजार पार कर चुकी है। तेल 250 पार कर चुका है और पेट्रोल 100 से पार हो चुका है। उन्होंने कहा कि जनता मंहगाई से तंग आ चुकी है और इस चुनाव में जनता मंहगाई का जवाब देने बाली है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular